ग्रामीणों की शिकायत कुड़ेकेला पटवारी निलंबित, देउरमार के पटवारी को नोटिस

Trending Puzzle : ऐसी कौन सी चीज है जिसे Boy हर रोज पहनता है

रायगढ़ : श्रीमती अलरमेलमंगई डी ने आज धरमजयगढ़ ब्लाक के छाल क्षेत्र का दौरा किया। इस दौरान वह आकस्मिक रूप से ग्राम पंचायत कुड़ेकेला पहुंचकर ग्रामीणों से भेंट-मुलाकात करने के साथ ही उनकी समस्याओं के बारे में पूछताछ की। कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने पंचायत के कामकाज एवं विकास कार्यों की भी जानकारी ली। ग्राम पंचायत कुड़ेकेला में पदस्थ पटवारी रीना भारतद्वाज के मुख्यालय में न रहने तथा ग्रामीणों एवं किसानों की समस्याओं के निदान में रूचि न लेने की शिकायत को देखते हुए कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने पटवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किए जाने के निर्देश एसडीएम को दिए। इस दौरान पुलिस अधीक्षक डॉ. संजीव कुमार शुक्ला, डिप्टी कलेक्टर एवं जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कीर्तिमान सिंह राठौर उनके साथ थे।

कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने कुड़ेकेला ग्राम पंचायत भवन में पेंशन राशि के वितरण का भी मुआयना किया। यहां सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत पेंशनधारियों को दिसम्बर माह की पेंशन का वितरण किया जा रहा था। पेंशन धारियों ने बताया कि ग्राम पंचायत द्वारा उन्हें पेंशन की राशि नगद भुगतान की जाती है। दिसम्बर माह की पेंशन 350 रुपए के मान से दी जा रही है। साथ ही अक्टूबर एवं नवंबर माह की पेंशन एरियस की राशि भी 100 रुपए दी जा रही है। यहां यह उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा अक्टूबर माह से पेंशन धारियों को प्रतिमाह 350 रुपए पेंशन दिए जाने का आदेश जारी किया गया था। अक्टूबर एवं नवंबर माह में पेंशनधारियों को पेंशन की राशि 300-300 रुपए प्रतिमाह के मान से पहले ही  भुगतान की जा चुकी थी। उक्त दोनों माह की शेष बढ़ी हुई राशि 50-50 रुपए का भुगतान भी पंचायत द्वारा पेंशन धारियों को किया जा रहा है।

कलेक्टर श्रीमती मंगई डी को कुड़ेकेला के ग्रामीणों ने बताया कि उनके गांवों में संचालित नल-जल योजना का पाईप क्षतिग्रस्त हो गया है। कलेक्टर ने जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री कीर्तिमान सिंह राठौर तथा पीएचई के कार्यपालन अभियंता को क्षतिग्रस्त पाईप की तत्काल मरम्मत के निर्देश दिए। छाल के नीचे पारा में पेयजल की समस्या के निदान के लिए कुआं निर्माण के निर्देश भी जनपद सीईओ को दिए गए। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने बताया कि देउरमार में पदस्थ पटवारी परमानंद कंवर द्वारा शासकीय कामकाज में लापरवाही बरती जा रही है। पटवारी मुख्यालय में नहीं रहता। वन अधिकार मान्यता प्राप्त पत्र-पुस्तिका का वितरण भी लाभान्वितों को नहीं किया गया है। पटवारी श्री कंवर द्वारा शासकीय सार्वजनिक निर्माण कार्यों के लिए भूमि का चिन्हांकन एवं नक्शा-खसरा समय पर न उपलब्ध कराए जाने के कारण निर्माण के कार्य प्रभावित होते है। आम जनता को भी पटवारी के न मिलने की वजह से दिक्कत होती है। कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने ग्रामीणों की शिकायत के मद्देनजर पटवारी श्री कंवर को तत्काल नोटिस जारी कर जवाब-तलब करने के साथ ही उस पर  नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के निर्देश एसडीएम को दिए। कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने धरमजयगढ़ के एसडीएम श्री राम तथा तहसीलदार श्री राठौर को पटवारियों के कामकाज पर कड़ी निगरानी रखने के साथ ही उनकी अनिवार्य रूप से मुख्यालय में उपस्थिति सुनिश्चित करने के सख्त निर्देश दिए।

WhatsApp Dare Game : Hum batayenge apka jeevansathi kaisa hoga