विधायक, कलेक्टर व एसपी ने छाल रोड का मुआयना किया

Trending Puzzle : Count Number Of Pencils

तात्कालिक राहत के लिए पेचवर्क व पानी का छिड़काव कराने के निर्देश

रायगढ़ : कलेक्टर श्रीमती अलरमेलमंगई डी एवं पुलिस अधीक्षक डॉ. संजीव कुमार शुक्ला ने आज धरमजयगढ़ के विधायक श्री लालजीत सिंह राठिया एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ छाल से हाटी सड़क का मुआयना किया। इस क्षतिग्रस्त सड़क को फिलहाल आवागमन के लिए सुविधा जनक बनाने के उद्देश्य से कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन अभियंता को आवश्यकतानुसार पेचवर्क कराने तथा एसईसीएल को इस 21 किलो मीटर लम्बी सड़क पर वाहनों की चलने की वजह से उड़ रही गर्दो-गुबार को रोकने के लिए दिन में तीन बार पानी का छिड़काव करवाए जाने के निर्देश दिए। विधायक, कलेक्टर एवं एसपी ने छाल से लेकर हाटी तक पूरी 21 किलो मीटर लम्बी सड़क की वर्तमान स्थिति का जायजा लिया। भारी वाहनों की चलने की वजह से यह सड़क जगह-जगह उबड़-खाबड़ हो गई है। ज्ञातव्य है कि इस सड़क की खस्ता हालत को लेकर स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों द्वारा लगातार शासन-प्रशासन का ध्यान आकर्षित किया जाता रहा है। सड़क के बीच-बीच में गड्ढे होने की वजह से वाहनों एवं राहगीरों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ता है। छाल क्षेत्र के ग्रामीणों की इस समस्या को देखते हुए कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने आज इस क्षेत्र का दौरा किया तथा विधायक श्री राठिया एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में छाल स्थित एसईसीएल के सभाकक्ष में बैठक कर सड़क की स्थिति को फिलहाल दुरूस्त करने के संबंध में विस्तार से चर्चा की।

बैठक में कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने बताया कि छाल से हाटी तक सड़क निर्माण का कार्य एसईसीएल को सौंपा गया था। कंपनी द्वारा सड़क के निर्माण का कार्य भी कराया जा रहा है। परंतु शासन ने इस मार्ग पर भारी वाहनों की आवाजाही को देखते हुए उच्च गुणवत्ता वाली सड़क का निर्माण कराए जाने का निर्णय लिया है। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य की कुल 13 सड़कों को सड़क विकास प्राधिकरण द्वारा बीओटी के माध्यम से कराए जाने का निर्णय शासन ने लिया है इसमें खरसिया से लेकर धरमजयगढ़ तक की सड़क भी शामिल है।  बैठक में एसईसीएल के सब एरिया मैनेजर श्री चौधरी ने बताया कि छाल से हाटी तक सड़क निर्माण का कार्य एसईसीएल 24 करोड़ रुपए की लागत से कराया जा रहा था। जिसमें से लगभग 14 किलो मीटर में सड़क निर्माण पर 8 करोड़ रुपए व्यय किए जा चुके है। बैठक में कलेक्टर ने सड़क को आवाजाही के लिए सुगम बनाने के उद्देश्य से  आवश्यकतानुसार मरम्मत का कार्य लोक निर्माण विभाग से कराए जाने तथा वाहनों के चलने के वजह से उडऩे वाले गर्दो-गुबार की रोकथाम के लिए एसईसीएल को रोजाना 3 बार पानी का छिड़काव सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। पानी के छिड़काव की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी जनपद पंचायत के सीईओ एवं डिप्टी कलेक्टर श्री कीर्तिमान सिंह राठौर को सौंपी गई। कलेक्टर श्रीमती मंगई डी ने छाल के नीचे पारा में पेयजल की समस्या के निदान के लिए कुआं का निर्माण कराए जाने के निर्देश जनपद सीईओ को दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ. संजीव कुमार शुक्ला, जनपद अध्यक्ष श्रीमती कन्या कुमारी राठिया, एसडीएम श्री एस.एन.राम, सीईओ जनपद पंचायत एवं डिप्टी कलेक्टर श्री कीर्तिमान सिंह राठौर, एसईसीएल के सब एरिया मैनेजर श्री चौधरी जनपद सदस्य पुनीत राठिया एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

WhatsApp Dare Game : This is a magic : Check what your friends are expecting from you in 2017