News

यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) कैरियर कार्यशाला के लिए 19 तक होगा पंजीयन

Trending Puzzle : Can you guess these 9 movie names from clothes?

UPSC Workshopअब तक 600 युवाओं ने कराया पंजीयन

20 जनवरी को होगी यूपीएससी कैरियर कार्यशाला: रायगढ़, 17 जनवरी 2015/ कलेक्टर श्री मुकेश बंसल के मार्गदर्शन में 20 जनवरी को देश की सबसे प्रतिष्ठित प्रतियोगी परीक्षा यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के लिए रायगढ़ में आयोजित होने वाली कैरियर कार्यशाला में भाग लेने के लिए अब तक लगभग 600 युवाओं ने अपना पंजीयन करा लिया है। इस कार्यशाला में भाग लेने के लिए इच्छुक युवा सोमवार 19 जनवरी तक अपना पंजीयन करा सकते है। पंजीयन कराने वाले युवाओं को ही कार्यशाला में प्रवेश दिया जाएगा। पंजीयन कलेक्टोरेट के आदिम जाति कल्याण विभाग के कक्ष क्रमांक 87 में जारी है।

ज्ञातब्य है कि जिला प्रशासन रायगढ़ द्वारा जिले के विद्यार्थियों को कैरियर मार्गदर्शन एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की टिप्स देने के उद्देश्य से भविष्य दृष्टि-युवा सृष्टि कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के माध्यम से महाविद्यालय एवं हायर सेकेण्ड्री स्कूल के विद्यार्थियों को कलेक्टर श्री मुकेश बंसल सहित जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारीयों द्वारा उच्च शिक्षा के लिए विषय का चयन, वर्तमान परिवेश में शाषकीय एवं निजी संस्थानों में नौकरी के अवसर, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी एवं सामान्य अध्यन के बारे में विद्यार्थियों से रूबरू चर्चा कर उनका मार्गदर्शन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत ही वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारीयों द्वारा सप्ताह में एक दिन चयनित स्कूलों में विद्यार्थियों की क्लास भी ली जा रही है। 20 जनवरी को भविष्य दृष्टि-युवा सृष्टि कार्यक्रम में एक और नई कडी जुड जाएगी। इसके अंतर्गत प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थान के एक्सपर्ट विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने के गुर बताएँगे। 20 जनवरी को प्रतियोगी परीक्षाओं विशेषकर संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए मार्गदर्शन कार्यशाला का आयोजन कलेक्टोरेट परिसर स्थित सृजन भवन में होगा। इसके लिए दिल्ली के एक प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थान और कैरियर काऊंसलर को प्रशासन ने विशेष रूप से आमंत्रित किया है। जिला प्रशासन द्वारा आयोजित की जाने वाली यूपीएससी कैरियर वर्कशाॅप को लेकर जिले के युवाओं में खासा उत्साह देखा जा रहा है। कैरियर कार्यशाला में भाग लेने के लिए स्वस्र्फूत रूप से युवा कलेक्टोरेट पहुंचकर कक्ष क्रमांक 87 में अपना पंजीयन करा रहे है।

सहायक कलेक्टर श्री गौरव कुमार सिंह ने बताया कि यूपीएससी के लिए कैरियर मार्गदर्शन कार्यशाला का आयोजन 20 जनवरी को दोपहर 12 बजे से सृजन सभाकक्ष में होगा। तीन घंटे की इस कार्यशाला में कोचिंग संस्थान के विषय-विशेषज्ञ तथा काऊंसलर युवाओं का मार्गदर्शन करेंगे। इस कार्यशाला के आयोजन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई है। पंजीयन कार्य के लिए आदिम जाति कल्याण विभाग के सहायक ग्रेड-2 विष्णु अग्रवाल की ड्यूटी लगाई गई है। उनका मोबाईल नंबर 98271-13036 है। रजिस्ट्रेशन के इच्छुक युवाओं को अपना नाम, पता, मोबाईल नंबर एवं योग्यता की जानकारी देनी होगी। पंजीयन उपरांत उन्हें एक टोकन दिया जाएगा। जिसके आधार पर वह मार्गदर्शन कार्यशाला में भाग ले सकेंगे। सहायक कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि यूपीएससी मार्गदर्शन कार्यशाला में परीक्षा का पैटर्न, पाठ्यक्रम, विषय की तैयारी, सामान्य अध्ययन की तैयारी सहित उनके जिज्ञासाओं एवं प्रश्नों का समाधान किया जाएगा। सहायक कलेक्टर ने बताया कि कार्यशाला में अधिकतम ढाई सौ लोगों को प्रवेश दिए जाने का निर्णय लिया गया था, परंतु जिले में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं के उत्साह को देखते हुए कलेक्टर श्री मुकेश बंसल ने इसमें वृद्धि किए जाने तथा कार्यशाला के आयोजन की बेहतर व्यवस्था के निर्देश दिए है। उन्होंने बताया कि 19 जनवरी तक पंजीयन कराने वाले शत्-प्रतिशत युवाओं को कैरियर कार्यशाला में शामिल होने का अवसर दिया जाएगा।

यहाँ यह उल्लेखनीय है कि कलेक्टर श्री मुकेश बंसल के मार्गदर्शन में जिले के विद्यार्थियों को कैरियर मार्गदर्शन देने के लिए भविष्य दृष्टि-युवा सृष्टि कार्यक्रम शुरू किया गया है। विद्यार्थियों ने अपने कैरियर को लेकर जो सपने संजोए है उन सपनों को हकीकत का जामा पहनाने के लिए, उन्हें उनकी मंजिल का रास्ता बताना ही इस कार्यक्रम का मकसद है, ताकि बच्चों को सही दिशा मिले और वह पढाई-लिखाई तथा प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होकर जिले और राष्ट का नाम रोशन कर सकें। उन्होंने कहा कि कलेक्टर श्री बंसल की यह मंशा है कि जिले के बच्चे ज्यादा से ज्यादा संख्या में प्रशासनिक सेवा, मेडिकल, इंजीनियरिंग एवं रेल व बैकिंग सेवा के लिए आयोजित होने वाली प्रतियोगी परीक्षा में सफल हो। इसके लिए जरूरी है कि बच्चों की काऊंसिलिंग की जाए, उनकी रूचि एवं योग्यता को परखकर, उन्हें इसके लिए तैयार किया जाए। भविष्य दृष्टि-युवा सृष्टि कार्यक्रम का मूल उद्देश्य यही है।

WhatsApp Dare Game : Whatsapp Game : Know your honeymoon place?
Tags
Show More | पूरा पढ़ें

Related Articles

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker